हार

थक कर सोया आज फिर नाकामियों से मिलकर, हताशा मन में लिए, हालातों से झगड़ कर। कुछ पाने की ललक, कुछ पल चैन से जीने की चाह; कहां मिल पाई थी वो जीने की राह। डर रहता मन में, कहीं रह ना जाऊं हार कर, उन्हीं हालातों से जिनको अड़ा हराने की जिद्द पर। बदल … Continue reading हार

Advertisements

Old flame

We talked after a long time For me, she is a dime But now that life is on a run We are far apart like earth and the sun She sounded gloomy about her work I thought the meet would cheer her up I also had some story to share But listening to her talks … Continue reading Old flame